श्री भागवत भगवान की है आरती Shree Bhagwat Bhagwan Ki Hai Aarti

  • Post author:
Spread the love

श्री भागवत भगवान की है आरती लिरिक्स

Shree Bhagwat Bhagwan Ki Hai Aarti Lyrics

आरती संग्रह

Shree Bhagwat Bhagwan Ki Hai Aarti Lyrics in Hindi

श्री भागवत भगवान की है आरती
पापियों को पाप से है तारती

ये अमर ग्रन्थ ये मुख्य पन्थ
ये पंचम वेद निराला
नव ज्योति जगानेवाला
हरि गान यही वरदान यही
जग की मंगल आरती
पापियों को पाप से है तारती

ये शान्तिगीत पावन पुनीत सा
कोप मिटानेवाला
हरि दरस दिखानेवाला
है सुख करनी, है दुःख हरिनी
मधुसूदन की आरती
पापियों को पाप से है तारती

ये मधुर बोल, जग फन्द खोल
सन्मार्ग दिखानेवाला
बिगड़ी को बनानेवाला
श्री राम यही, घनश्याम यही
प्रभु की महिमा की आरती
पापियों को पाप से है तारती

प्रभु की महिमा की आरती
पापियों को पाप से है तारती

Shree Bhagwat Bhagwan Ki Hai Aarti Lyrics in English

Bhagwat Bhagwan Ki Aarti
papiyo ko pap se hai Tarati

ye amar granth ye mukhya panth
ye pancham ved nirala
nava jyoti jagane wala
hari gaan yahi varadan yahi
jag ki mangal aarati
papiyo ko pap se hai Tarati

ye shantigeet pavan punit sa
kop miTane wala
hari daras dikhaanewala
hai sukh karanii, hai dukh harini
madhusudan ki aarati
papiyo ko pap se hai Tarati

ye madhur bol, jag phand khol
sanhmarg dikhanewala
bigaDi ko banaanewala
shri ram yahii, ghanshyam yahi
prabhu ki mahima ki aarati
papiyo ko pap se hai Tarati

Bhagwat Bhagwan Ki Aarti
papiyo ko pap se hai Tarati


Spread the love

Leave a Reply